30 Nov 2019

बिरेन्द्र बिहारी का न्यु सांग "लिखी ना रिपोर्ट दरोगा जी" रिलीज
Likhi  Na Report Daroga Ji

पटना/दिल्ली - आज भोजपुरी फ़िल्मी दुनिया के यूट्यूब चैनल पे सिंगर बिरेन्द्र बिहारी का भोजपुरी सांग "लिखी ना रिपोर्ट दरोगा जी" का ऑडियो रिलीज किया गया है जिसके गीत लिखा है मुन्ना रितेश ने और संगीत दिया है संतोष लाल यादव ने और रिकॉर्डिंग किया गया है संगीत महल स्टूडियो साहेबगंज, बिहार में. सिंगर बिरेन्द्र बिहारी एक अच्छे सिंगर है और पिछले कई सालो से लोक गीत गा रहे है जिसे अलग-अलग यूट्यूब चैनल पे रिलीज किया गया है. बिरेन्द्र बिहारी बिहार से लेकर पंजाब तक अलग-अलग शहरो में शो भी करते है और भोजपुरिया जनता का मनोरंजन करते रहते है. आने वाले दिनों में सिंगर बिरेन्द्र बिहारी के कई और लोक गीत भी रिलीज होंगे। इस गीत के गीतकार मुन्ना रितेश ने जो अब तक कई बेहतरीन सांग लिख चुके है जिसे अलग-अलग गायको ने गया है और यूट्यूब पे मिलियन व्यू पाए है.


Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791

21 Nov 2019

बेहतरीन भोजपुरी फिल्म बद्रीनाथ रिलीज
Bhojpuri Movie Badrinath  Poster

वैसे तो आज और भी भोजपुरी फिल्म रिलीज हुई है उनमे से एक है फिल्म बद्रीनाथ। फिल्म बद्रीनाथ में मुख्य भूमिका में है संजीव मिश्रा और भोजपुरी फिल्मो के चार बेहतरीन अभिनेत्रियां के साथ-साथ संजय पांडेय, सोनू पांडेय, अनूप अरोरा और अन्य है। संजीव मिश्रा का पहचान एक गायक के रूप में था लेकिन अब वो लगातार अभिनय कर रहे है और एक दमदार अभिनेता के रूप में अपनी पहचान बना ली है.
फिल्म बद्रीनाथ को आप अपने नजदीकी सिनेमा घरो में आज से देख सकते है. आप लोगो के सुविधा के लिए पोस्टर में कुछ सहरो के कुछ सिनेमा घरो के नाम भी दिए गए है.
Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791
फ़िल्म नीति और अनुदान न दिए जाने से दुःखी फ़िल्म निर्माताओं ने उठायें सवाल।
Vijay Lal Sahdev

राँची/मुम्बई।फ़िल्म नीति और दिया जानें वाला अनुदान को लेकर लोहरदगा के फ़िल्म निर्माता निर्देशक लाल विजय शाहदेव काफी नाखुश हैं।अकेले झारखंड के लाल विजय शाहदेव ही नहीं,बल्कि कई फ़िल्म निर्माता निर्देशक फ़िल्म नीति और अनुदान न मिलने से खफा हैं।इस बात से झारखंड के कलाकार और फ़िल्म निर्माता शुरू से ही दुःखी हैं कि जिसके लिए फ़िल्म नीति बनी।जिनके लिए अनुदान की व्यवस्था की गई।आज वे ही सभी वंचित हैं।आपको बता दे कि झारखंड सरकार द्वारा जब से झारखंड फ़िल्म विकास निगम का गठन किया गया हैं।लाल विजय शाहदेव ने इस पर कई सवाल उठाए गए हैं।जिस उम्मीद से फ़िल्म नीति का निर्माण हुआ था।ऐसा मालूम पड़ता हैं कि उस पर पानी फिरता दिख रहा है।पहले इस समिति का अध्यक्ष अनुपम खेर को बना दिया गया था। जो कभी बोर्ड की मीटिंग में शामिल नही हुए।लेकिन,उन्होंने अपनी फिल्म रांची डायरी बनाकर सब्सिडी लेने में तुरंत सफल हो गए। ऐसे ही मुकेश भट्ट भी बेगम जान की चंद दिनों की शूटिंग में ही सब्सिडी बटोर कर चले गए। इस क्रम में कई स्तरहीन फिल्मों को भी अच्छी खासी सब्सिडी से नवाजा गया। इन फिल्मों में झारखंड के खूबसूरत लोकेशन को कितना दिखाया गया हैं।यह भी सवाल का विषय बना हुआ हैं।अब जब नागपुरी भाषा में अच्छी फिल्मों का निर्माण शुरू हुआ। तो फ़िल्म नीति की नीयत में खोट आ गयी। पुराने समिति को निष्क्रिय बताकर नई समिति बनाई गई।आपको जानकर हैरानी होगी कि पूरी समिति में अधिकांश सदस्यों को फ़िल्म निर्माण से कोई लेना देना नही है।कई अवार्ड से सम्मानित समिति के अध्यक्ष मेघनाथ ने किस वजह से इस समिति को नही अपनाया।यह भी जानने का विषय है।गुपचुप तरीके से कुछ लोगों के साथ संपर्क किया गया और उन्हें बड़े ही गोपनीय तरीके से समिति में शामिल कर लिया गया। झारखंड के सारे प्रतिभावान और फ़िल्म निर्माण में सक्रिय भूमिका निभा रहे लोगों को पूछा तक नही गया। दो दशक से भी ज़्यादा समय से सक्रिय निर्माता निर्देशक लाल विजय शाहदेव और नंदलाल नायक ने फ़िल्म नीति की कार्य प्रणाली और समिति के अधिकांश सदस्यों की योग्यता पर सवाल उठाते हुए इस पर गहरी चिंता व्यक्त की है। एक संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए दोनों ने इस पर अपनी नाराजगी जताते हुए आने वाले सरकार से मांग की है कि इसे अविलंब भंग करके योग्य और अनुभवी लोगो को शामिल किया जाय। फ़िल्म नीति की पूरी प्रक्रिया को पारदर्शी बनाते हुए इसे सरल बनाया जाय जिससे सही फ़िल्म निर्माताओं को बेवजह परेशान न होना पड़े। ज्ञात हो कि लाल विजय शाहदेव की नागपुरी फ़िल्म "फुलमनिया" का प्रदर्शन कांन्स फ़िल्म फेस्टिवल में होने के बाद बृहद रूप से झारखंड के अलावा ओड़िसा, छत्तीसगढ़, असम, बंगाल बिहार में भी रिलीज किया गया।फ़िल्म की तारीफ दर्शकों के अलावा मीडिया ने भी बढ़ चढ़कर किया। यहां तक कि एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में झारखंड फ़िल्म डेवलपमेंट कॉउन्सिल के निदेशक ने इस फ़िल्म की तारीफ करते हुए जहां सिनेमा हॉल नही है वहां भी इसे टॉयलेट एक प्रेम कथा की तरह हर जगह प्रदर्शित करने की भी घोषणा की। प्रदर्शन का तो पता नही पर सारी औपचारिकता पूरी करने के बाद भी ये नागपुरी फ़िल्म आजतक सब्सिडी की राह देख रही है। उसी तरह नंदलाल नायक की नागपुरी फ़िल्म "धुमकुड़िया" जो कई सारे फ़िल्म फेस्टिवल में अवार्ड लेकर सुर्खियां बंटोर रही है उसे भी समिति द्वारा निराशाजनक मूल्यांकन का सामना करना पड़ रहा है। फुलमनिया जहाँ डायन प्रथा, बांझपन और बेटा बेटी की समानता पर आधारित है वहीं धुमकुड़िया झारखंड की ज्वलंत समस्या महिला तस्करी पर आधारित है। सरकार इन ज्वलंत मुद्दों पर न जाने कितने अरबो रुपए खर्च करती आ रही है और आज जब इस तरह के मुद्दों पर फ़िल्म बनाकर ये निर्माता निर्देशक लोगों को जागरूक करने के प्रयास में लगे हुए हैं तो उन्हें झारखंड फ़िल्म नीति से कोई सपोर्ट नही मिल रहा है। उन्हें बार बार अयोग्य समिति के मूल्यांकन और फ़िल्म नीति की जटिल प्रक्रिया से परेशान होना पड़ रहा है ।
उन्हें ऊपर से नीचे तक भटकना पड़ रहा है। पिछले साल गोवा फ़िल्म फेस्टिवल में कई करोड़ रुपये खर्च करके जे एफ डी सी एल को क्या मिला ये सोचने और समझने की बात है जबकि उतने पैसे से कई फिल्मों को सब्सिडी दी जा सकती थी। नागपुरी कला संस्कृति के बढ़ावा के नाम पर बेवजह खर्च करना और ईमानदारी के साथ पूर्ण रूप से झारखंड में बनी नागपुरी फिल्मों को सब्सिडी देने में कोताही बतरना समझ से परे है। ऐसी फिल्मों के निर्माण से झारखंड फ़िल्म इंडस्ट्री में एक नयी उम्मीद जगी है। इसे सरकार और झारखंड फ़िल्म डेवलपमेंट कॉउन्सिल को विशेष रूप से प्रोत्साहन देना चाहिए था। नंदलाल नायक और लाल विजय ने दुखी मन से बताया कि पहले तो मुख्यमंत्री हमें झारखंड के ज्वलंत मुद्दे पर फ़िल्म बनाने के लिए आमंत्रित करते हैं और जब उस पर हम तन मन धन से काम करते हैं।तो हमें घर की मुर्गी दाल बराबर समझकर ऑफिस दर ऑफिस भटकना पड़ता है। सिंगल विंडो की बात करने वाली फिल्म नीति से गुजरने के लिए न जाने कितने तथाकथित विंडो में ताक झांक करना पड़ता है। किसी अफसर या संबंधित अधिकारियों के पास कोई साफ जवाब नही है। आखिर ऐसा क्यों हो रहा है ये सोचने और समझने की बात है। लाल विजय शाहदेव ने यह भी बताया कि नयी समिति के निर्माण के वक़्त उन्हें एक उच्च अधिकारी द्वारा प्रोजेक्ट भवन में बुलाकर समिति में रहने के लिए बोला गया।फिर सूचना भवन में एक अधिकारी ने इस बात पर मुहर लगाते हुए। उन्हें समिति के लिए समय देने की बात कही और उनसे समिति बनाने के लिए सहायता मांगी। बाद में उन्हें बताये बगैर समिति का गठन कर दिया गया। सूत्रों से पता चला कि इस खेल में एक तत्कालीन मंत्री और उनके कुछ करीबी लोगों का हाथ था जो अफसरों से मिलकर कुछ न कुछ खुराफ़ाती करते रहते हैं। नंदलाल नायक ने बताया कि हम दोनों ने झारखंड का नाम सिर्फ अपने देश मे नही बल्कि विदेशों में भी कर दिखाया है। सरकार और संबंधित अफसर को इस पर संज्ञान लेने की ज़रूरत है। लाल विजय ने अपने टी. वी. सीरियल और फ़िल्म की शूटिंग झारखंड में करके यहां के कई प्रतिभाओं को एक प्लेटफार्म दिया वहीं नंदलाल नायक ने अपनी लोक संगीत और नृत्य के साथ फिल्मो में संगीत देते हुए बरसों तक विदेशों में झारखंड का नाम रोशन किया। आज फ़िल्म नीति से दोनों दुखी हैं और इसमें हो रहे तरह तरह के गोपनीय प्रयोग से बहुत चिंतित हैं।
दोनों ने एक संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए बताया कि अगर नई सरकार के गठन के बाद इस पर तुरंत बदलाव नही आता है तो अदालत का सहारा लिया जाएगा। हमारे पास लंबी फेरहिस्त है जिसका जवाब जल्द जे एफ डी सी एल से मांगा जाएगा और उनके जवाब के बाद इसे सार्वजनिक किया जाएगा। नंदलाल नायक ने बताया कि समिति के अधिकांश सदस्य अपने अपने फील्ड में संघर्षरत हैं और वो सभी स्थानिय निर्माताओं को हीन भावना से परखते हैं। जो ख़ुद संघर्ष के दौर में हैं और काम की तालाश में हैं वो कैसे किसी फ़िल्म का सही मूल्यांकन करेंगे।
लाल विजय शाहदेव ने सारे अफसरों और अधिकारियों से झारखंड के सभी निर्माता निर्देशकों को वही सहूलियत देने की मांग की है जो बड़े और नामचीन निर्माताओं को मिलती है। अगर उनके व्यवहार में बदलाव नही आया तो इसे जन आंदोलन का स्वरूप देकर पूरे झारखंड में इसका विरोध प्रकट किया जाएगा।
Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791
गैंग्स ऑफ़ बिहार" का म्यूजिकल मुहूर्त हुआ सम्पन्न।
गैंग्स ऑफ़ बिहार

मुम्बई।बिहार देश का ऐसा राज्य रहा है जिसकी चर्चा वहां मौजूद बाहुबलियों और गैंग्स को लेकर अधिक होती रहती है. क्राइम की दुनिया के कई नाम ऐसे रहे हैं जिनके जिक्र भर से वहां के लोग सहम जाते थे। अपराध की दुनिया और राजनीति में ऊंचे रसूख रखने वाले भी यहाँ सुर्ख़ियों मे रहते हैं. वहां के ऐसे गैंग्स सदा पुलिस और सरकार के लिए चैलेन्ज रहे हैं। ऐसे ही गैंग्स और क्राइम वर्ल्ड के अन्धकार भरे माहौल को अब बड़े परदे पर पेश करने जा रहे हैं लेखक निर्देशक कुमार नीरज अपनी अपकमिंग फिल्म "गैंग्स ऑफ़ बिहार" के जरिये. दिलचस्प बात यह है कि इस फिल्म से जुड़े कई लोगों का सम्बन्ध बिहार राज्य से है इसी लिए इस फिल्म से उम्मीद है कि यह एक रीयलिस्टिक सिनेमा बनेगा.
"गैंग्स ऑफ़ बिहार " के निर्देशक कुमार नीरज बिहार के वैशाली जिला के हैं, वैशाली बेहद प्राचीन शहर है, जिसका महात्मा बुद्ध से निकट का सम्बंध रहा है। वहीँ इस फिल्म के संगीतकार अफ़रोज़ खान का ताल्लुक बिहार के जहानाबाद जिला से है और साथ ही बिहार के प्रमुख पत्रकार श्रीकांत प्रतुश भी इस फिल्म में एक अहम किरदार निभा रहे हैं.
पिछले दिनों मुंबई स्थित लता मंगेश्कर स्टूडियो में इस फिल्म " गैंग्स ऑफ़ बिहार का म्यूज़िकल मुहूर्त किया गया। संगीतकार अफ़रोज़ खान ने 'हम दिल दे चुके सनम' फेम सिंगर मोहम्मद सलामत की आवाज में एक गीत रिकॉर्ड किया। निर्माता मोहम्मद शफीक सैफी ,लेखक निर्देशक कुमार नीरज की यह फिल्म ए ए ए एंटरटेनमेंट के बैनर तले बनाई जा रही है। इस फिल्म में मुकेश तिवारी, अखिलेंद्र मिश्रा, राजवीर सिंह, नाज़नीन पटनी, श्रीकांत प्रतुश,अंजलि अग्रवाल, मृत्युंजय कुशवाहा, धनञ्जय सिंह, सुप्रिया,रचना सोनी और नवनीत कुमार नजर आयेंगे। इस फिल्म की कहानी एक तरफ क्राइम से सुलगते बिहार की है तो दूसरी तरफ उसी बिहार राज्य में मोहब्ब्त की आगोश में झूम रहे दो प्रेमियों की है। फिल्म की कहानी में काफी टर्न और ट्विस्ट हैं जो दर्शको को दिलचस्प लगेगा। क्राइम, बदला, राजनीति, दहशत के साए में पनपते प्यार की एक रोमांचक गाथा दर्शकों के लिए किसी सुनहरे उपहार से कम नहीं होगी. उलेखनीय है कि निर्देशक कुमार नीरज टीवी धारावाहिकों में बतौर डायरेक्टर काफी काम कर चुके हैं और इस फिल्म को लेकर बेहद उत्साहित हैं।
Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791

17 Nov 2019

मनोज मस्ताना यादव का सांग - "दारू पी के मारूउ गे मईया" रिलीज
दारू पी के मारूउ गे मईया
मगही और भोजपुरी सिंगर मनोज मस्ताना यादव का न्यू मगही सांग "दारू पी के मारूउ गे मईया" को यूट्यूब पे रिलीज कर दिया गया है जिसे सुनकर आप अपना मनोरजन कर सकते है. मनोज मस्ताना एक जाने माने सिंगर है जो पटना के आस-पास के इलाकों में लोकप्रिय है. मनोज मस्ताना बिभिन्ना अवसरों पर लाइव शो भी किया करते है. "दारू पी के मारूउ गे मईया" एक प्योर मगही गीत है जिसे लिखा है एस. के. सागर ने संगीत दिया है शिव मनमोही ने और इस गाने को भोजपुरी फ़िल्मी दुनिया के यूट्यूब चैनल पे रिलीज किया गया है. मनोज मस्ताना के अनुसार इस सांग का वीडियो भी जल्द आने वाला है। मनोज चाहते है की मगहिया जनता इस गाने को सुने और हम जैसे कलाकारों मनोबल बढ़ाये ताकि आने वाले दिनों में अच्छा से अच्छा गीत गा सके और लोगो का मनोरंजन कर सके.

Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791
फिल्‍म ‘बंधन जन्‍म - जन्‍म के’ की शूटिंग
बंधन जन्‍म - जन्‍म के

भोजपुरी सिंगर और एक्‍टर राज यादव और खूबसूरज एक्‍ट्रेस काजल यादव स्‍टारर फिल्‍म 'बंधन जन्‍म - जन्‍म के' की शूटिंग इन दिनों जोर – शोर से रांची के हसीन वादियों में चल रही है। फिल्‍म 'बंधन जन्‍म - जन्‍म के' एक पारिवारिक प्रेम कथा है, जिसको लेकर राज यादव बेहद एक्‍साइटेड हैं। राज की मानें तो यह फिल्‍म उनके लिए अति महत्‍वपूर्ण है। इस फिल्‍म की कहानी आम जीवन की कहानी है। नाम से ही प्रतीत होता है कि इस फिल्‍म की कहानी वैवाहिक आयामों को संजोती हुई होगी। फिल्‍म के डायरेक्‍टर प्रभात ओझा हैं।
इससे पहले राज यादव ने फिल्‍म को लेकर कहा कि फिल्‍म 'बंधन जन्‍म - जन्‍म के' में समाज, संस्‍कार और संदेश के साथ एक हेल्‍दी मनोरंजन दर्शकों को मिलेगा। कथानाक, संवाद और संगीत फिल्‍म की कहानी में चार चांद लगाने वाले हैं। बांकी प्रभात ओझा के डायरेक्‍शन में हमने अब तक अपना हंड्रेड परसेंट दिया है और हमें उम्‍मीद है कि जब हमारी फिल्‍म 'बंधन जन्‍म - जन्‍म के' सिनेमाघरों में रिलीज होगी, तब र्शकों को यह खूब पंसद आने वाली है। खास कर भोजपुरी सिनेमा से दूर हो चुकी महिला दर्शकों को भी यह फिल्‍म पसंद आयेगी और वे खुद को फिल्‍म से कनेक्‍ट कर पायेंगी।
राज यादव ने बताया कि फिल्‍म 'बंधन जन्‍म - जन्‍म के' की मेकिंग पूरी तैयारी के साथ की जा रही है। फिल्‍म की शूटिंग से पूर्व प्री प्रोडक्‍शन फेज में कहानी के हर एक पहलुओं पर विचार किया गया है। हम भी फिल्‍म के लिए बेहद मेहनत कर रहे हैं। फिल्‍म में मेरे आपोजिट फीमेल लीड में काजल यादव हैं, जो एक बेहतरीन इंसान और उम्‍दा कलाकार हैं। उनके साथ काम करने में हमें मजा आ रहा है, तो यकीनन हमारी केमेस्‍ट्री भी दर्शकों को पसंद आयेगी। वैसे हमारी कोशिश अच्‍छी है, लेकिन अंतिम निर्णय फिल्‍म को लेकर दर्शकों को ही लेना है।
Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791

14 Nov 2019

ओम प्रकाश अकेला का न्यू  वीडियो सांग - हउ वाला चीजवा दिखाई द


मगही और भोजपुरी गायक ओम प्रकाश अकेला को मगहीया लोगो के साथ-साथ भोजपुरीया लोगो का भी खूब प्यार और आशीर्वाद मिल रहा है. जैसा की आप लोग जानते है ओम प्रकाश अकेला उर्फ़ बिल्डरवा के पापा मगही कॉमेडी से लोगो के बिच अपना पहचान बनाये फिर धीरे-धीरे उन्होंने गायकी के ऒर अपना रुख किया और कई मगही गीत गाकर खूब सोहरत पाया। अब मगही के साथ-साथ वो भोजपुरी गीत भी गा रहे है और भोजपुरी जनता का प्यार पा रहे है. ओम प्रकाश अकेला के गाने भोजपुरी और मगही दोनों समाज के लोग देखते है और सुनते है. इसी कड़ी में ओम प्रकाश अकेला उर्फ़ बिल्डरवा के पापा का न्यू वीडियो सांग - "हउ वाला चीजवा दिखाई द" को भोजपुरी फ़िल्मी दुनिया के यूट्यूब चैनल पे रिलीज किया गया है. उम्मीद करते है की आने वाले दिनों में ओम प्रकाश अकेला की पॉपुलैरिटी और बढ़ेगी। Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791

12 Nov 2019

कला भाषा संस्कृति को बढ़ाने के लिए राजेश चलातें हैं - आयुष फिल्म्स
Ayush Films

फ़िल्म पीआरओ कुमार युडी की रिपोर्ट।
राँची।शौक बड़ी चीज हैं,ऐसा आपने बहुत सुना होगा।पर आज जान भी लीजिये।पुनदाग राँची के रहने वालें राजेश कश्यप यूँ तो छोटे व्यवसायी हैं।पर झारखंड के म्यूजिक और फ़िल्म इंडस्ट्री से भी जुड़े हुए हैं।कहते हैं उन्हें गीत संगीत के वीडियो निर्माण से कोई विशेष लाभ नहीं होता हैं।पर एक शौक और जुनून हैं कि गीत संगीत कला संस्कृति को बढ़ावा मिलें।राजेश कश्यप आयुष फिल्म्स नाम से यूट्यूब चैनल चलाते हैं।लेकिन,जब सीडी कैसेट का दौर था।तब से राजेश गीत संगीत निर्माण से जुड़े हुए हैं।वर्तमान में आयुष फिल्म्स ने अपने एक लाख सब्सक्राइबर्स पूरे कर लिए हैं और इस वजह से उन्हें यूट्यूब की ओर से यूट्यूब बटन दिया गया हैं।आपको बता दें कि राजेश ने 2003 से नागपुरी एल्बम का निर्माण शुरू किया।इनका मकसद सिर्फ और सिर्फ कला संस्कृति को बढ़ाने का रहा हैं 2003 से 2012 तक सीडी कैसेट के जरिये ही गीत संगीत का निर्माण किया।जो किरण ऑडियो और प्रीत ऑडियो पर लगातार रिलीज होते रहे।जब कैसेट का दौर बंद हुआ तो 2018 में आयुष फिल्म्स यूट्यूब चैनल की शुरुआत की।राजेश ने इस बात को खुद स्वीकार किया कि इन चीजों से उन्हें कोई खास लाभ नहीं हुआ।पर खुशी हैं कि वे अपना योगदान कला संस्कृति को बढ़ाने में दे रहें हैं।राजेश अपने बैनर तले हर कलाकार को रोजगार देना चाहते हैं और यूँ ही कला जगत की सेवा में लगे रहना चाहते हैं।
Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791

9 Nov 2019

 बिरसा मुंडा पार्क में रोमांटिक लव सॉन्ग की शूटिंग की गई।
Avi Arya and Neha

धनबाद।बिरसा मुंडा पार्क यूँ तो हमेशा से ही चर्चे में रहा हैं।खास कर प्रेमी जोड़ों को लेकर इस पार्क का जिक्र सुनने को मिलता।हालाँकि पार्क में दूर-दूर से लोग अपने परिवार संग घूमने के लिए आतें हैं।पर यह पार्क शूटिंग के लिए भी लोकप्रिय हैं।आयें दिन यहाँ म्यूजिक वीडियो एल्बम और फ़िल्म की शूटिंग होती ही रहती हैं।हाल ही में बीतें दिनों धनबाद के एक्टर डायरेक्टर अवि आर्या के हिंदी लव सांग की शूटिंग इस पार्क में की गई।अवि आर्या यूँ तो लगातार शूटिंग करते ही रहते हैं।कई वीडियो यूट्यूब पर इनके लोकप्रिय भी हैं।अवि आर्या का कहना हैं कि ये लव सांग बहुत जल्द रिलीज किया जाएगा।जो युवाओं को बहुत पसंद आएगा। इन गीतों की शूटिंग बी मी एंटरटेनमेंट के बैनर तले किया गया हैं।जिसके बोल हैं कोयल जो बोलें बाग में और मेरा तेरे लिए हुआ हैं जनम। इस वीडियो शूटिंग टीम में डीओपी पल्लव रॉय और विजय गुप्ता मौजूद थे।वीडियो का कांसेप्ट और स्टोरी अवि आर्या का हैं।वीडियो में अवि आर्या,नेहा और राहुल राइडर ने काम किया हैं।जो बी मी एंटरटेनमेंट यूट्यूब पर ही अगलें हफ्ते तक रिलीज कर दी जाएगी।
Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791
यामिनी सिंह के"लव लैटर"की17 नवंबर से शूटिंग
Bhojpuri Movie Love Lettar

फरीदाबाद व आस पास (NCR)में अपनी मूवी लव लैटर की शूटिंग 17 नवंबर से शुरू होगी,सुपर स्टार सिंगर समर सिंह इस फिल्म के हीरो हैं,ब्यूटी क्वीन-ड्रीम गर्ल यामिनी सिंह व श्रुति राव हीरोइन हैं। मुख्य भूमिका में हैं गिरीश शर्मा ,मनोज बक्शी, विजेंद्र सिंह,शिवानी भारद्वाज,रोहतास सैनी,त्रिवेणी बाबू,संजीव कुशवाहा,अंशुल भारद्वाज,सुधीर झा,नेहा तिवारी,रिया,हरभजन सिंह, छवि,लवली शर्मा,अमृत भारद्वाज (नन्हा कलाकार)आदि कई कलाकार हैं।मधुर गीत संगीत मुन्ना दुबे, मखमली आवाज अलका झा,असित त्रिपाठी,श्रुति ,अंत्रा प्रियंका ,डायरेक्शन में सहयोग बीरेंद्र पासवान व संजीव श्रीवास्तव,सहायक निर्देशक पूजा यादव ,डायलॉग व स्क्रीन प्ले संजीव श्रीवास्तव,पी आर ओ रामचंद्र, डिजाइनर नरसू है,प्रोडक्शन कंट्रोलर रंजीत कुमार शाह,DOP संजय सिंह राजपूत,कोरियोग्राफर संतोष सर्व दर्शी ,फाइट मास्टर गोपाल,एक्सक्यूटिव प्रोड्यूसर हरीश शर्मा व हरिंदर शर्मा ,आर्ट डायरेक्टर रणधीर एन दास,मेकअप सुरेश जैसवार, हेयर किरन,स्टिल लिटू व फूड कुंदन कुमार
Top Ten Bhojpuri Legend, Films, Actor, Actress, Singers, Albums, Songs, Video, Music Company and Production Company

Contact us on whats App No. -   91-9718810791